Monday, February 25, 2013

Colors Of Life

चंद ठोकरों में ही सम्हल जा ए नादां दिल मेरे …
गिरने पर दुनिया अक्सर सम्हलने नहीं देती … 

चंद ज़ख्मों में ही सम्हल जा ए नादां दिल मेरे … 
बिखरने पर दुनिया अक्सर सिमटने नहीं देती ...
 - Alok Kumar Upadhayay
- Safar - The Journey

Powered by Blogger.